(Tax free budget this time in Punjab)पंजाब में इस बार टैक्स फ्री बजट: ​​​​​​​वित्तमंत्री हरपाल चीमा बोले- कोई नया टैक्स नहीं लगाएंगे; मौजूदा टैक्स से ही रेवेन्यू बढ़ाएंगे

50

Tax free budget this time in Punjab

पंजाब में इस बार का बजट टैक्स फ्री होगा। यह बात वित्तमंत्री हरपाल चीमा ने कही। चंडीगढ़ में पत्रकारों से बात करते हुए चीमा ने कहा कि इस बार लोगों पर सरकार कोई नया टैक्स नहीं लगाएगी। पहले से चल रहे टैक्स से ही पंजाब सरकार रेवेन्यू बढ़ाएगी। चीमा ने कहा कि इस बार हमारे टैक्स की कलेक्शन अच्छी होगी। हालांकि अकाली दल और कांग्रेस ने सवाल उठाया कि मान सरकार 16 हजार करोड़ के आमदनी और खर्च के गैप को कैसे पूरा करेगी?।

 

वित्तमंत्री चीमा ने सुझाव देने वाले युवाओं और महिलाओं से बातचीत भी की

पहली बार पंजाब बजट के लिए लोगों के सुझाव
वित्तमंत्री हरपाल चीमा ने कहा कि पंजाब के लोगों ने पहली बार अपना बजट बनाने के लिए सुझाव दिए हैं। उन्होंने कहा कि 2 से 10 मई तक चले पोर्टल और ई-मेल के जरिए हमें 20 हजार से ज्यादा सुझाव मिले हैं। 500 से ज्यादा मेमोरंडम मिले हैं। इसके लिए हमने पंजाब के कई शहरों का दौरा किया था। 4,055 महिलाओं ने भी बजट के लिए सुझाव दिए हैं। लुधियाना से 10.41% सुझाव मिले हैं। दूसरे नंबर पर पटियाला और तीसरे नंबर पर फाजिल्का है।

किसने क्या मांगा
चीमा ने कहा कि इंडस्ट्री ने अच्छे इन्फ्रास्ट्रक्चर, बिजनेस फ्रैंडली इन्वॉयरमेंट, इंस्पेक्टरी राज के खात्मा, सीएलयू लेने या इंडस्ट्री लगाने के लिए नियमों में ढील की मांग की गई है। महिलाओं ने अच्छी एजुकेशन, गर्ल चाइल्ड के लिए बेसिक एजुकेशन में सुधार की मांग की है। इसके अलावा सेहत से जुड़े कई सुझाव दिए गए हैं। युवाओं ने हमें नौकरियों के अवसर, अच्छी एजुकेशन, ई-गवर्नेंस और लाइब्रेरी की मांग की है। किसानों ने इनकम में बढ़ोत्तरी, खेती में टेक्नोलॉजी, डायवर्सिफिकेशन की मांग की है। खेत मजदूरों ने रहने के लिए शहरों में मकान उपलब्ध करवाने की मांग की है। इसके लिए अलग बजट की मांग की है। इसी तरह काफी सुझाव मिले हैं।

5 साल में पूरी करेंगे गारंटी
वित्तमंत्री चीमा ने कहा कि आम आदमी पार्टी के मुखी अरविंद केजरीवाल और सीएम भगवंत मान ने जो भी गारंटी दी हैं, उन्हें सरकार के 5 सालों में पूरा कर दिया जाएगा। आप ने चुनाव में मुफ्त बिजली के अलावा 18 साल से बड़ी उम्र की हर महिला को हर महीने एक हजार रुपए देने का वादा किया था।