राजस्व अधिकारियों की हड़ताल समाप्त: कैबिनेट मंत्री से बैठक के बाद वापस काम पर लौटे

89
Quiz banner

राजस्व अधिकारियों के साथ बैठक करते मंत्री जिंपा

पंजाब में लंबी कांड के बाद अनिश्तकालीन हड़ताल पर चल रहे राजस्व विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों ने अपनी हड़ताल वापस ले ली है। राजस्व विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने हड़ताल वापसी का फैसला राजस्व मंत्री के साथ बैठक में मिले आश्वासनों के बाद किया गया।

चंडीगढ़ में बुधवार को राज्य के राजस्व, पुनर्वास एवं आपदा प्रबंधन मंत्री ब्रह्म शंकर जिंपा ने हड़ताल पर बैठे राजस्व विभाग के सभी संगठनों के पदाधिकारियों को बुलाया था। बैठक में राजस्व विभाग के अधिकारियों को काम के दौरान पेश आ रही दिक्कतों को लेकर चर्चा की गई।

राजस्व विभाग के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने बैठक के दौरान लंबी में तहसील कर्मचारियों और अधिकारियों को किसान संगठनों द्वारा बंधक बनाए जाने का मामला उठाया। कर्मचारी नेताओं ने काम के दौरान अपनी सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि एक तो राजस्व विभाग में बहुत सारे पद खाली हैं और गिरदावरी से लेकर बहुत सारे काम उनके हवाले हैं। जब काम में देरी होती है तो उन्हें लोगों के कोप का भाजन बनना पड़ता है।

ब्रह्म शंकर जिंपा ने उन्हें आश्वासन दिया कि शीघ्र ही उनकी सारी समस्याओं का निवारण कर दिया जाएगा। राजस्व मंत्री ने एसोसिएशन के प्रतिनिधियों को आश्वासन दिया कि उनकी सभी मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा और वे तुरंत अपने कार्यालयों में जाकर अधिक से अधिक जनहित के लिए काम शुरू करें। इसके अलावा सभी की सुरक्षा को भी सुनिश्चित किया जाएगा। कैबिनेट मंत्री के हस्तक्षेप और आश्वासन के बाद राजस्व विभाग के कर्मचारियों ने आज अपनी हड़ताल समाप्त कर दी है और वे तुरंत काम पर लौट आए हैं।

कैबिनेट मंत्री ब्रह्म शंकर जिम्पा ने कहा कि आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल और मुख्यमंत्री भगवंत मान के कुशल नेतृत्व में पंजाब सरकार कर्मचारियों के कल्याण के लिए कटिबद्ध है। पंजाब रेवेन्यू ऑफिसर्स एसोसिएशन की मांगों को मुख्यमंत्री के सामने रखा जाएगा। ताकि इनका शीघ्र समाधान किया जा सके। बैठक में अपर मुख्य सचिव-सह-वित्तीय आयुक्त राजस्व विजय कुमार जंजुआ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहेे।