मान सरकार का बड़ा फैसला: पंजाब में एक सीट पर एक साल से ज्यादा नहीं रहेगा कर्मचारी

56

सरकारी सिस्टम को सुधारने के लिए CM भगवंत मान की अगुवाई वाली पंजाब सरकार ने नए निर्देश जारी किए हैं। खजाना दफ्तर को भेजे आदेश में कहा गया है कि एक सीट पर अब एक कर्मचारी एक साल से ज्यादा नहीं रहेगी। वहीं अफसरों को स्पष्ट किया गया है कि किसी भी फाइल पर एक ही बार सारे एतराज लगाएं। जिसमें नियमों का हवाला देते हुए स्पष्ट तौर पर बताया भी जाए।

खजाना दफ्तर को यह दिए गए नए आदेश

  • अफसर और कर्मचारी समय पर दफ्तर पहुंचे। कोई छुट्‌टी पर हो तो उसकी जगह किसी दूसरे की तैनाती हो।
  • आवेदन के साथ कौन-कौन से दस्तावेज लगाने जरूरी हैं, उसका नोटिस बोर्ड लगाया जाए। विभाग की तरफ से जारी हिदायत भी इस नोटिस बोर्ड पर होनी चाहिए।
  • कर्मचारियों की ड्यूटी रोटेशन वाइज हो। इससे कर्मचारी को अनुभव भी होगा और मोनोपली की संभावना भी नहीं रहेगी।
  • खजाने में उपलब्ध अष्टाम और टिकटों की गिनती रोज नोटिस बोर्ड पर लगाई जाए।
  • खजाना दफ्तर में कंप्लेंट बॉक्स लगाए जाएं। इन्हें रोज चैक कर रजिस्टर में दर्ज किया जाए। एक हफ्ते के अंदर शिकायत का निपटारा हो।
  • शिकायत दर्ज करवाने के लिए अफसरों के नाम, पद और मोबाइल नंबर नोटिस बोर्ड पर दर्ज किए जाएं।
  • आम जनता, पेंशनर, सीनियर सिटीजन के साथ नरमी से पेश आएं। उनके बैठने का इंतजाम हो। किसी किस्म की चूक हुई तो संबंधित अधिकारी और कर्मचारी जिम्मेदार होंगे।

पंजाब सरकार द्वारा जारी किए आदेश…