कबड्डी खिलाड़ी के Murder में एक और गिरफ्तार: यूपी के यादविंदर ने शूटरों को मुहैया करवाए थे हथियार, खुद भी था वारदात स्थल पर मौजूद

49
Quiz banner

संदीप नंगल उर्फ अंबिया

नकोदर के गांव मल्लियां में कबड्डी मैच के दौरान सरेआम गोलियां मार कर अंतरराष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी संदीप नंगल अंबिया की हत्या के मामले में पुलिस को एक और सफलता मिली है। पुलिस ने अंबिया को गोलियां मारने वाले शूटरों को हथियार मुहैया करवाने से लेकर ठहराने व गाड़ी का प्रबंध करने वाले आरोपी को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपी की पहचान यादविंदर सिंह उर्फ याद निवासी अभयपुर (माधोपुर, पूरनपुर) जिला पीलीभीत उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। यादविंदर सिंह उर्फ याद हत्या के मामले में जेल से पूछताछ के लिए लाए गए सिमरनजीत सिंह उर्फ झुजार का साला है। सिमरनजीत ने ही पुलिस पूछताछ में बताया था कि विदेश में बैठे सनावर ढिल्लों (अमृतसर का निवासी है और आजकल ब्रैंपटन (ओंटारियो) कनाडा में रहता है), सुखविन्दर सिंह उर्फ सुखा दुनेके उर्फ सुख सिंह मूल निवासी गांव दुनेके (मोगा) फिलहाल निवासी कनाडा समेत जगजीत सिंह उर्फ गांधी निवासी डेहलों लुधियाना (मौजूदा समय में मलेशिया में रह रहा है) के साथ बातचीत के बाद अपने साले याद को शूटरों के ठहरने, उन्हें हथियार मुहैया करवाने और वारदात स्थल की रैकी करवाने के साथ-साथ उन्हें गाड़ी का प्रबंध करने को का था। अपने जीजा झुजार के कहे अनुसार याद ने शूटरों को पिस्तौल गोलियां दिलवाकर अमृतसर में ठहराया था। इसके बाद याद ने शूटरों को वारदात स्थल की रैकी करवाई अंबिया के बारे में सारी जानकारी दी और वारदात के लिए गाड़ी का प्रबंध भी करवाया। यहां तक वारदात वाले दिन खुद यादविंदर सिंह उर्फ याद मौके पर मौजूद था।

आरोपी से मिले दो पिस्तौल और जिंदा कारतूस

एसएसपी देहाती सतिंद्र सिंह ने बताया उत्तर प्रदेश के पीलीभत जिले से पकड़े गए आरोपी के कब्जे से दो पिस्तौल एक प्वांइट 32 बोर और एक प्वाइंट 30 बोर मिले हैं। इसके अलावा दोनों पिस्तौलों के करीब छह जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं। इसके अलावा वारदात में प्रयोग की गई एक्सयूवी गाड़ी यूपी-25डीडी-6249 भी बरामद की है। एसएसरी सतिंद्र सिंह ने बताया कि हत्या के मामले में पकड़े गए आरोपी यादविंदर सिंह उर्फ को कोर्ट में पेश किया गया। जहां अदालत ने उसे चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। उन्होंने कहा कि पूछताछ के दौरान अन्य आरोपियों के बारे में भी पता किया जाएगा।

जेल में रची गई थी हत्या की साजिश

इंटरनेशनल कबड्डी खिलाड़ी संदीप नंगल अंबिया को मारने की साजिश विदेश में बैठे उसके दुश्मनों ने जेल में बंद अपराधियों के साथ मिलकर रची थी। जेल में बंद चार कुख्यात अपराधियों फतेह सिंह उर्फ युवराज निवासी संगरूर, कौशल चौधरी निवासी नाहरपुर रुपा, गुरुग्राम, हरियाणा के गांव महेशपुर पलवां के अमित डागर, सिमरनजीत सिंह उर्फ जुझार सिंह उर्फ गैंगस्टर निवासी गांव माधोपुर पीलीभीत ने कनाडा में बैठे सवनावर ढिल्लों, सुखा दुनेके और मलेशिया में बैठे जगजीत सिंह के संपर्क में थे। इन्होंने विदेश में बैठे तीनों आरोपियों ने भी विदेशी धरती पर कबड्डी की एसोसिएशन बनाई थी। सनावर ढिल्लों ने अंबिया को उनके ग्रुप मे शामिल होने के लिए कहा था। लेकिन अंबिया ने मना कर दिया। इससे उनकी कबड्डी एसोसिएशन फेल हो गई। इसकी खुन्नस में उन्होंने अंबिया का मर्डर करवा दिया। पुलिस ने सूचना के आधार पर चारों जेल में बंद आरोपियों को पुनः रिमांड लिया था। इन्होंने सारी साजिश का खुलासा कर दिया।